कजरारे नयन

  मन मोह लिए हैं कितने इन कजरारे नयनों ने हर अदा पर इनकी दिल कितने बेताब हुए हैं जगा कर प्यास कभी ना बुझने वाली पर्दे में...

सिंदूरी टीका

    माथे पर दमके सिंदूरी टीका और अँख़ियों में फैल गया कजरा हाथों में है पी तेरे नाम की मेहंदी और बालों में सजा जूही का गजरा

राधे

    तेरे मेरे मिलने का राधे कोई संजोग नहीं तेरे मेरे नसीब में लिखी है बस ये दुखदाई विरह जब भी आए मेरे लब पर कभी नाम...

क़यामत

      हया तो गहना है औरत का नज़रों से मगर क़यामत वो ढाती है दुनिया की हसरत भरी निगाहों को अपने दामन में चुपके से समाती है

थोड़ा मैं संवार लूँ

    पीछे छोड़ फ़िक्र जमाने की आज ख़ुद को थोड़ा मैं संवार लूँ आईने से वफ़ा की कोई उम्मीद नहीं बस ख़ुद ही अपने को निहार लूँ

मेरे दिल के अल्फ़ाज़

कभी-कभी दिल की गहरी भावनाओं को कुछ शब्दों में व्यक्त किया जा सकता है।आपको अपने ख्यालों को व्यक्त करने के लिए लंबी कविता लिखने...

ज़िंदगी के रंग

    बेरंग सी क्यूँ लगती है आज ज़िंदगी मुझे सुकून ढूँढने चली हूँ ना जाने क्या वजह हैं तनहाई का लेकर फ़ितूर आख़िर क्या होगा ये जाना कि...

घुंघरू

    तेरे पैरों में बसता हूँ गीत सुरीला बन कर थिरक उठता हूँ मगन कुछ बन ठन कर ग़र टूट कर बिखर गया तो कोई ग़म नहीं ठोकर...

इंतेज़ार

    राह निहार रही हूँ मैं ना जाने कब से ख़त्म नहीं होती ये घड़ियाँ इंतेज़ार की माथे पर शिकन और बेचैनी दिल में लिए स्वागत में खड़ी...

धुन प्यार की

    अभी छाया है जहाँ हर ओर सन्नाटा महफ़िल मेरे घर में यार की फिर सजेगी कुछ पल की ही हैं ये खामोशियाँ फ़िज़ा में फिर धुन प्यार...

Popular articles