ईद के चाँद का बहुत महत्व होता है । दिलों को तरसा कर ये आसमान में अपनी झलक दिखलाता है । यूँ तो चाँद लगभग रोज़ नज़र आता है पर ईद के चाँद की रौनक़ कुछ अलग होती है। ये नख़रे दिखा कर , कुछ इतरा कर ख़ूबसूरती से चमकता है। “ईद का चाँद “ कविता में भी मैंने चाँद के इस अनोखे रुप का बखान किया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here